उम्र से पहले माथे पर नजर आने वाली झुर्रियां हो सकती है इस गंभीर बीमारी के लक्षण

आमतौर पर एक उम्र के बाद हर इंसान के चेहरे और माथे पर रिंकल्स यानी की झुर्रियां आना शुरू हो जाता है. रिंकल्स यदि एक उम्र के बाद चेहरे या माथे पर दिखाई दे तो उसे बढती उम्र का तकाजा माना जाता है लेकिन यदि समय से पहले ही आपके माथे पर झुर्रियां दिखायी देने लग जाए तो आपको थोड़ी सावधानी बरतने की जरुरत है. आज हम आपको इस पोस्ट के जरिये बताने जा रहे हैं की आखिर माथे पर नजर आने वाली झुर्रियां किस बीमारी के लक्षण हैं और कैसे इस दूर किया जा सकता है.

आपको बता दें की यदि आपके माथे पर भी उम्र से पहले  ही रिंकल्स नजर आने लगे हैं तो ये हार्ट से जुड़ी किसी समस्या के लक्षण हो सकते हैं. ये हैरान करने वाली बात वाकई में की आखिर माथे पर नजर आने वाले झुर्रियों का दिल की बीमारी से क्या लेना देना है, बता दें की एक लेटेस्ट रिसर्च में इस बारे में पता किया गया है की असल में वक़्त से पहले चेहरे और माथे आर नजर आने वाली झुर्रियां हार्ट से जुड़ी एथेरोस्क्लेरोसिस बीमारी के संकेत होते हैं. गौरतलब है की हार्ट से जुड़ी इस गंभीर बीमारी में दिल की धमनियों में प्लाक जमा होने लगते हैं जिस वजह शारीर के अलग अलग भागों में खून का प्रवाह ठीक तरह से नहीं होता है और सही वक़्त पर इलाज ना करवाने की वजह से इन्सान की मृत्यु भी हो जाती है. बता दें की हार्ट से जुड़ी इस एथेरोस्क्लेरोसिस बीमारी का सबसे पहला लक्षण माथे पर नजर आने वाली झुर्रियां ही हैं, यदि वक़्त रहते इसकी पहचान कर ली जाए तो आसानी से इस रोग से निजात पाया जा सकता है. इस बीमारी में धमनियों में प्लाक के जमा हो जाने की वजह से विशेषरूप से बॉडी को ऑक्सीजन और खून नहीं मिल पाता है और इस वजह से ही समान्यतः लोगों की मौत होती है.

इस बीमारी के बारे में सबसे ज्यादा जरूरी है ये जानना है की इसका असर हार्ट पर तो पड़ता ही है साथ ही साथ इससे दिमाग को भी नुकसान पहुँचता है. आपको बता दें की धमनियों में ब्लॉकेज आने की वजह से हार्ट अटैक और दिल के दौरे का चांस जहाँ एक तरफ सबसे ज्यादा बढ़ जाता है वहीँ दूसरी तरफ ब्रेन को ऑक्सीजन ना पहुँच पाने की वजह से से ब्रेन स्ट्रोक का ख़तरा भी काफी बढ़ जाता है. आपकी जानकारी के लिए बता दें की एथेरोस्क्लेरोसिस जैसी गंभीर बीमारी की वजह ख़ास तौर से है ज्यादा तेल मसलों वाला भोजन जिससे कोलेस्ट्रोल की मात्रा शारीर में काफी बढ़ जाती है. इसके आलवा इस बीमारी के होने का कारन ज्यादा सिगरेट पीना भी है, घुम्र्पान करने वाले लोगों में इस बीमारी का होना आजकल एक आम बात होगयी है. बता दें की यदि शारीर में इन्सुलिन की मात्रा बढ़ जाए तो इससे भी शारीर में एथेरोस्क्लेरोसिस बीमारी के होने का ख़तरा बढ़ जाता है. इस बीमारी के प्रमुख लक्षण के रूप में माथे पर नजर आने वाली झुर्रियां हैं और इसके आलवा सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द और एनर्जी की कमी महसूस होना भी इस बीमारी के ख़ास लक्षण हैं जिन्हें इग्नोर नहीं करना चाहिए.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *